What is Transistor मोबाइल PCB बोर्ड ट्रांजिस्टर के कार्य

ट्रांजिस्टर कैसे काम करता है ट्रांजिस्टर के प्रकार What is Transistor How to Work Transistor in Hindi-

What is Transistor मोबाइल PCB बोर्ड ट्रांजिस्टर के कार्यWhat is Transistor ट्रांजिस्टर का नाम तो आप सबने सुना ही होगा, ट्रांजिस्टर के अविष्कार से इलेक्ट्रॉनिक फिल्ड में बहुत बड़ी क्रान्ति आ गई थी। आपने ट्रांजिस्टर के बारे में तो जरूर सुना होगा यदि अगर आप इस जरूरी इलैक्ट्रानिक सर्किट ट्रांजिस्टर के बारे में नहीं जानते है तो हम आपको अपने इस आर्टिकल में ट्रांजिस्टर क्या है (What is Transistor)? मोबाइल पीसीबी में ट्रांजिस्टर के कार्य? ट्रांजिस्टर कितने टाइप के होते है और ट्रांजिस्टर को मल्टीमीटर से कैसे चेक करते हैं? के बारे में जानकारी दे रहे हैं आइए जानते है।

ट्रांजिस्टर क्या है What is Transistor in Hindi  

What is Transistor ट्रांजिस्टर दिखने में एक बहुत ही छोटा और साधारण सा इलेक्ट्रानिक कॉम्पोनेन्ट होता है। लेकिन Transistor उपयोग बहुत बड़े पैमाने पर लिया जाता हैं। ट्रांजिस्टर के उपयोग से मोबाइल फोन और कंप्यूटर में इतनी अधिक स्पीड कर रहे है। आसान भाषा में समझें तो ट्रांजिस्टर का उपयोग   सबसे ज्यादा प्रयोग एम्प्लीफिकेशन के लिए किया जाता है। एम्प्लीफिकेशन अर्थात किसी भी सिग्नल  को बढ़ाने के लिए Transistor का उपयोग होता है। ट्रांजिस्टर एक Semiconductor (अर्धचालक) डिवाइस है जो कि किसी भी Electronic Signals को Amply या Switch करने के काम आता है। यह (Semiconductor) अर्धचालक पदार्थ से बने होते हैं जिसे बनाने के लिए ज्यादातर सिलिकॉन और जेर्मेनियम का प्रयोग किया जाता है।

ट्रांजिस्टर में कितने टर्मिनल होते है How Many Terminal in Transistor –

What is Transistor Type of Transistor- ट्रांजिस्टर के मुख्यरूप से तीन टर्मिनल होते है, जिन्हें बेस, कलेक्टर और एमीटर कहा जाता है।

Collector-Common Collector Configuration

Base –Common base configuration (Ground)

Emitter –Common emitter configuration

ट्रांजिस्टर के प्रकार Type of Transistor

बनावट के अनुसार ट्रांजिस्टर मुख्य रूप से दो तरह के होते है खासतौर से मोबाइल पीसीबी में ट्रांजिस्टर दो प्रकार के होते है PNP (Positive negative Positive)और NPN (negative Positive negative)। 

PNP ट्रांजिस्टर क्या है इसमें P प्रकार के पदार्थ की परत को दो N प्रकार की परतों के बीच में लगाया जाता है यानी अगर किसी Transistor का P सिरा बीच में हैं तो वह N-P-N ट्रांजिस्टर कहलाता हैं. इसमें इलेक्ट्रान बेस टर्मिनल के जरिये कलेक्टर से एमीटर की ओर जाते है।

NPN ट्रांजिस्टर क्या है इसमें N प्रकार के पदार्थ की परत को दो P प्रकार की परतों के बीच में लगाया जाता है यानी किसी ट्रांजिस्टर का N सिरा बीच में हैं तो वह P-N-P ट्रांजिस्टर कहलाता है।

मोबाइल फोन पीसीबी में ट्रांजिस्टर का कार्य Use of Transistor in Mobile PCB Circuit in Hindi

मोबाइल पीसीबी में ट्रांजिस्टर का मुख्य कार्य यूज सिग्नल पावर को बढाने के लिए किया जाता है, जिसे एंप्लीफिकेशन भी कहा जाता है। इसके अलावा ट्रांजिस्टर का कार्य मोबाइल पीसीबी में Switching के लिए भी किया जाता है। इसके अलावा ट्रांजिस्टर Voltage को Regulate करने का कार्य भी करता है।

डिजिटल मल्टीमीटर से ट्रांजिस्टर को कैसे चेक करें How to Check Transistor by Multimeter in Hindi

डिजिटल मल्टीमीटर से ट्रांजिस्टर को चेक करने के लिए मल्टीमीटर के Red प्रोब को Emitter पर और Black प्रोब को Base पर रखेंगे। जब रीडिंग मिलती है तो ट्रांजिस्टर PNP टाइप है और यदि रीडिंग नहीं आती है तो ट्रांजिस्टर NPN टाइप है। इसके अलावा यदि दोनों टर्मिनल पर रीटिंग नहीं मिलती है तो ट्रांजिस्टर खराब होगा।

error: