What is Capacitor कपैसिटर क्या है Condenser के कार्य प्रकार खासियत

कपैसिटर क्या होता है कंडेनसर कैसे काम करता है What is Capacitor How to Work Condenser in Hindi  

What is Capacitor कपैसिटर क्या है Condenser के कार्य प्रकार खासियतWhat is Capacitor in Hindi, What is condenser in Hindi आज हम आपको किसी भी सर्किट बोर्ड के जरूरी पार्टस कपैसिटर के बारे में जानकारी दे रहे है। कपैसिटर को कंडेनसर, फिल्टर नामों से भी जाना जाता है जिसे किसी भी सर्किट बोर्ड में सी अक्षर से प्रदर्शित किया जाता हैं और केपेसिटेन्स को “F” से मापा जाता हैं। यह मोबाइल सहित सभी प्रकार के इलैक्ट्रीक उपकरणों में यूज होने वाला पार्टस है। आइए जानते है कपैसिटर क्या होता है और इसके जरूरी कार्यों के बारे में What is capacitor how to work it in circuit board-

कपैसिटर क्या है What is Capacitor in Hindi  

What  is Capacitor धातु कि दो प्लेटो के बीच कोई कुचालक पदार्थ रखकर, प्लेटो में से एक-एक तार निकल दिया जाएँ तो इस तरह बने डिवाइस को कपैसिटर यानि कंडेनसर कहा जाता हैं। यह एक इलेक्ट्रॉनिक कॉन्पोनेंट है जो लगभग सभी सर्किट में यूज किया जाता है जिसमें इलेक्ट्रिक चार्ज स्टोर होता है। इसके अंदर लगी दोनों प्लेट चार्ज स्टोर करने का काम करती है। जिसमें से एक प्लेट पर पॉजिटिव चार्ज होता है और दूसरी पर नेगेटिव चार्ज होता है। कपैसिटर के अंदर चार्ज होने वाले इलेक्ट्रिक चार्ज की Amount को Capacitance कहते हैं. कैपेसिटेंस को मापने की इकाई Farad (F) है। कपैसिटर के अंदर लगी प्लेट की संख्या को बढ़ाकर इसका Capacitance भी बढ़ाया जा सकता है।

कपैसिटर के प्रकार Type of Capacitor in Hindi

What is capacitor how to work in PCB,- Polarity के हिसाब से कपैसिटर दो तरह के होते हैं-

1:- POLAR (पोलार)

2:- NON POLAR (नॉन पोलर)

POLAR (पोलार) कैपिसिटर:- ऐसे कपैसिटर जिनमे Negative और Positive टर्मिनल होते हैं। POLAR Capacitor कहलाते हैं। इस प्रकार के कंडेनसर को Circuit में लगाते समय नेगेटिव व पॉजिटिव का विशेष ध्यान रखना पड़ता हैं। यदि यह उलटे लगा दिए जाए तो यह गरम होकर फट जाते हैं। जो सर्किट को भी नुकसान पहुंचा सकते है। 

POLAR (पोलार) कैपिसिटर को मल्टीमीटर से कैसे चेक करें How to Check Polar Capacitor in Hindi

पोलर कपैसिटर को Digital मल्टीमीटर से चेक करने के लिए मल्टीमीटर को buzzer पर सेट करेंगे और अगर कपैसिटर के दोनों सिरों पर मल्टीमीटर के दोनों प्रोब ( + , – ) को लगाने पर रीडिंग बताकर वापस 1 पर आ जाती है तो इसका मतबल है कपैसिटर सही है। अगर ऐसा नहीं है तो यह खराब है   

POLAR (पोलार) कंडेंसर में Negative और Positive की पहचान

पोलर Capacitor के ऊपर Positive और Negative टर्मिनल का पता लगाने के लिए Capacitor के ऊपर एक कलर की हुई पट्टी होती है उस पट्टी के अंदर Negative सिरे पर (- – -) लिखा हुआ रहता हैं और दूसरा सिरा Positive होता है।

NON POLAR (नॉन पोलर):-

ऐसे कपैसिटर जिनमे Negative और Positive टर्मिनल नहीं होते हैं। Non Polorised Capacitor कहलाते हैं। इन Condenser चाहे जैसे लगा सकते हैं।

NON POLAR (नॉन पोलर) कपैसिटर को मल्टीमीटर से कैसे चेक करें How to Check Non Polar Capacitor in Hindi 

NON POLAR Capacitor को मल्टीमीटर से चेक करने के लिए मल्टीमीटर के दोनो प्रोब कपैसिटर के दोनों सिरों पर लगाते है अगर यह कुछ रीडिंग दिखाता है तो कपैसिटर सही है और अगर यह सॉट बताता है तो खराब है ।

कपैसिटर के कार्य How to Work Capacitor in Hindi

What is Capacitor How to work condenser in Hindi कपैसिटर एक बैटरी की तरह ही काम करता है यह करंट को स्टोर करता है। जिस प्रकार टंकी में स्टोर पानी को दुबारा निकाला जा सकता हैं। ठीक उसी प्रकार केपेसीटर में स्टोर किये गये आवेशो को भी दुबारा प्राप्त किया जा सकता हैं। कपैसिटर का इस्तेमाल बहुत से सर्किट में होता है इसका कार्य AC सप्लाई को जाने देना DC सप्लाई को रोकना है। इसके अलावा कपैसिटर के कुछ कार्य नीचे प्रदर्शित किए गए है।

error: