बाउंस रेट क्या है और इसे कैसे कम करें-What is bounce rate and how to decrease it

बाउंस रेट क्या है-What is Bounce Rate

बाउंस रेट क्या है-What is Bounce Rate mobileslatestजब आप नयी वेबसाइट बनाते हो तो विज़िटर्स आपकी वेबसाइट पर आते है लेकिन वो आपके किसी भी पोस्ट को पढ़ते नहीं और चले जाते है। आप यह कह सकते हो कि आपकी साइट पर वह रुकते ही नही और तुरंत चले जाते है। इन विज़िटर्स के रुकने या न रुकने के प्रतिशत को ही बाउंस रेट कहते है। बाउंस रेट जितना कम हो उतना अच्छा होता है। बाउंस रेट को 30% से कम हैं तो यह बहुत अच्छा है लेकिन अगर यह 60% से ज्यादा है तो यह आपकी वेबसाइट के लिए बिल्कुल अच्छा होता है।

बाउंस रेट को कैसे कैलकुलेट करें-How to Calculate Bounce Rate

बाउंस रेट= जितने विज़िटर्स लौट जाते है/ जितने विज़िटर्स आपकी साइट में हर महीने आते है

यह बाउंस रेट निकालने का तरीका होता है।

बाउंस रेट को कम कैसे करें-How to Reduce Bounce Rate

  1. साइट की पेज डिजाइनिंग को अच्छा बनायें हमेशा अपने विज़िटर्स को पसंद आने वाले ग्राफ़िक्स का इस्तेमाल करें। ज्यादा हाई ग्राफ़िक्स का इस्तेमाल न करें। अपने ब्लॉग में ज्यादा रंगों का उपयोग न करें। ब्लॉग को जितना सिंपल रखेंगे उतना ज्यादा विज़िटर्स आपके साइट पर आयेंगे।
  2. वेबसाइट पर कंटेंट अच्छा डाले आप जितना अच्छा कंटेंट डालेंगे उतने ज्यादा विज़िटर्स आपकी साइट में आयेंगे। इसलिए हमेशा अच्छे कंटेंट ही साइट में डालें।
  3. मल्टीमीडिया का इस्तेमाल करें अपनी साइट को अच्छा और आकर्षक बनाने के लिए हमेशा इमेजेस, ऑडियो और विडियो का इस्तेमाल करें।
  4. लोडिंग टाइम को कम करें आप अपने कंटेंट में मल्टीमीडिया और इमेजेस का इस्तेमाल करें लेकिन एक हद तक। क्योंकि ज्यादा मल्टीमीडिया का इस्तेमाल आपके पेज की लोडिंग टाइम को बढ़ता है जिससे विज़िटर्स आपकी साइट को खोलते तो है लेकिन देर में लोड होने के कारन उसे बिना पढ़े ही वापस चले जाते है।
  5. कीवर्ड अच्छे डाले अपने कंटेंट में अच्छे कीवर्ड डालें। कीवर्ड जितने ज्यादा अच्छे होंगे उतना आपका कंटेंट विज़िटर्स तक पहुँचेगा।
  6. मोबाइल फ्रेंडली कंटेंट बनाये मोबाइल फ्रेंडली से मतलब है कि आपका कंटेंट इस होना चाहिए जो हर किसी के फ़ोन आसानी से पढ़ा जा सके। मोबाइल में भी वेबसाइट खुलने में समय ना लगे।
  7. ज्यादा शब्द के आर्टिकल लिखे अपना कंटेंट हमेशा लंबा लिखे। आपके कंटेंट में जितने ज्यादा वर्ड्स होंगे उतना ही आपके वेबसाइट में विज़िटर्स ज्यादा आयेंगे। आपका आर्टिकल 500-600 वर्ड्स का होना चाहिए।
  8. ज्यादा केटेगरी ना रखे ज्यादा केटेगरी रखने की गलती कभी ना करें। जो नए ब्लॉगर होते है वह ये गलती बहुत ज्यादा करते है। आपने जिस टॉपिक पर अपनी वेबसाइट बनाई है ज्यादा से उसी केटेगरी के आर्टिकल डालें। अगर अपने ज्यादा केटेगरी के पोस्ट डाले तो विज़िटर्स कंफ्यूज हो जाते है और जल्द ही आपकी साइट से चले जाते है।

बाउंस रेट से सम्बन्धित सवाल उनके जवाब

प्रश्न 1- बाउंस रेट कितनी कम होनी चाहिए?

उत्तरबाउंस रेट 30% से कम होनी चाहिए।

प्रश्न 2- नयी वेबसाइट के लिए कितनी बाउंस रेट ठीक होती है?

उत्तर नयी वेबसाइट के लिए 70% बाउंस रेट भी अच्छी होती है लेकिन इसे जल्द ही कम करने की कोशिश करते रहना चाहिए।

प्रश्न 3- बाउंस रेट कम क्यों होनी चाहिए?

उत्तर बाउंस रेट जितनी कम होगी विज़िटर्स उतने ज्यादा आएंगे।

error: